दिउली ग्राम सभा रैवासीयू की शानदार मुहिम सिरसणा पम्पिंग योजना से अब इथगा गाँव रैवासयू की बुझी जाली तीस

उत्तराखंड मा पाणी की बड़ी समस्या च, यी समस्या कारण लोग गाँव छोड़िकन पलायन कना कुणी मजबूर ह्वे गेन। इनी समस्या यमकेश्वर प्रखण्ड क नीलकंठ नजीक गाँव दिउली ग्राम सभा मा पाणी की बड़ी दिक्कत च। ग्रामीण लोगू न एक बैठक करी अर यी समस्या निजात पाण की योजना पर काम करी।
अध्यक्ष पूरन कैंतुरा न बते कि मुख्य पाणी सोत डोरण गांव क नजीक ग्राम धमांद क बाट मनन 100 मीटर तळ च, अजकली रूड़यू बगत मा भी 3-4 इंच पाणी मौजदू च। उन बते कि ग्रामीण लोगू न मिलीकन ये पाणी तै गांव मा पौछाण की योजना पर काम करी। बैठक मा तय करे ग्यायी की कुछ जन सहयोग से त कुछ सरकरी मदद से यी योजना पर काम करे जाव। गाँव लोगून आर्थिक सहयोग करी अर अब पाणी सोत पर 35 हजार लीटर का टैंक निर्माणधीन च जू अगल हफ्ता भीतर पूर ह्वे जाल। अजो भी यख काम पर रोज़ 8-10 मजदूर अर गांव लोग लगातार काम कना छन।

Loading...

पूरन कैंतुरा न बते की 35 हजार लीटर पानी तै 15HP की मोटर से लिफ्ट करी कन तुंगेली आम तक पहुंचये जाल , जकम 56 हजार क एक होर स्टोरेज टैंक बणये जाल अर फिर एथर पाणी तै हर गांव हर घर मा पहुंचाण की योजना च। उन बते की यी योजना खातिर हम तै सोत समणी 3 फेज बिजली कनकनेक्शन की भीं जरूरत ह्वेली।

दिउली, बस्टोला, गांव क अलावा दिउली स्कूल, दिउली राजकीय एलोपैथिक हॉस्पिटल , हिंडोला बाजार ,कुकरेतीखाल एवं नीलकंठ सेवा शिशु संस्थान भी योजना से लाभान्वित ह्वाल। उन इन भी बते कि हमर कुछ जन प्रतिनिधियू न भी योजना मा सहयोग दीण की घोषणाएं करी च लेकिन आचार संहिता क चलद जून तकन ही मदद की उम्मीद करे जै सकदू। समिति क लक्ष्य च की योजना तै बरसात से पैल धरातल पर उतरण की च जै खातिर हरसंभव प्रयास करयाणा छन अर छेत्र क सभी लोगू से सहयोग भी मिलणा च ।

समिति क अध्यक्ष पूरण कैंतुरा न बतायी कि ज़मीन पर काम कन मा मुख्य रूप से समिति केसचिव बृजभूषण पयाल, उपाध्यक्ष उपेंद्र पयाल , कोषाध्यक्ष दौलत पयाल अर गांव मा दिउली ग्राम सभा क मनखी अर दिउली महिला मंगल दल की सभी सदस्यों क अहम योगदान च। समिति तै येक अलावा ग्राम सभा क प्रवासियूं तरफ बिटी आर्थिक सहायता बतौर हर संभव प्रयास करयाणा छन। मुख्य रूप मा सहायता कन ह्वाल श्री होशियार सिंह पयाल (₹ 1 लाख), श्री अनूप पयाल अर श्री भगतराम कुकरेती जी प्रमुख छन।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *