उत्तराखंड को मिले 7500 रेमडेसिविर इंजेक्शन, स्टेट प्लेन से देर रात पहुंची खेप

उत्तराखंड को और 7500 रेमडेसिविर के इंजेक्शन मिल गए हैं। मंगलवार देर शाम स्टेट प्लेन से अहमदाबाद से यह खेप उत्तराखंड पहुंची। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत का कहना है कि अब प्रदेश में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी नहीं होगी।

मुख्यमंत्री ने बताया कि रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी को देखते हुए मंगलवार सुबह स्टेट प्लेन को अहमदाबाद भेजा गया था। राज्य सरकार का यह विशेष विमान रेमडेसिविर इंजेक्शन की खेप लेकर देर रात तक उत्तराखंड पहुंची।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अहमदाबाद से इस खेप के आ जाने के बाद कोविड 19 संक्रमण के बाद इलाज में इस्तेमाल किए जाने वाले इस  इंजेक्शन का पर्याप्त कोटा प्रदेश के पास हो जाएगा। मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग को सभी जिलों को पर्याप्त मात्रा में इंजेक्शन भेजने का भी आदेश दिया है। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण से जूझ रहे किसी भी प्रदेशवासी को रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी ना हो।

बताया गया कि बीते तीन दिन में ही उत्तराखंड में लगभग 11 हजार रेमडेसिविर इंजेक्शन की आपूर्ति हो गई है। बीते शनिवार को भी उत्तराखंड में 3500 रेमडेसिविर इंजेक्शन की आपूर्ति हुई थी। अगले 24 घंटों में उत्तराखंड को 2000 रेमडेसिविर इंजेक्शन की और आपूर्ति हो जाएगी।

11 लाख वर्ग मीटर क्षेत्र में किया गया सैनिटाइजेशन
प्रदेश स्तर पर कोरोना से चल रही जंग में सभी निगम, पालिका और नगर निकायों में बड़े पैमाने पर सैनिटाइजेशन का अभियान चल रहा है। इसके तहत मंगलवार को प्रदेशभर में 11 लाख वर्ग मीटर क्षेत्र को सैनिटाइज किया गया।

सैनिटाइजेशन अभियान के नोडल अधिकारी विनोद कुमार सुमन ने बताया कि मंगलवार को सैनिटाइजेशन के काम में प्रदेशभर के 1360 कर्मचारी शामिल हुए। कोविड से बचाव के लिए जागरूकता को 551 वाहन चलाए गए, जबकि 416 लाउडस्पीकरों का इस्तेमाल किया गया।

उन्होंने बताया कि 11 लाख वर्ग मीटर सार्वजनिक स्थान, बाजार, पार्क, पार्किंग, बस स्टैंड, टैक्सी स्टैंड, भीड़ वाले क्षेत्रों में सैनिटाइजेशन किया गया। इसमें 4644 लीटर सैनिटाइजर का इस्तेमाल किया गया। इसके अलावा विभिन्न क्षेत्रों में 2741 किलो ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव किया गया।

Sorce Link

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *