अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश मा में भर्ती कोविड पॉजिटिव व कोविड आशंकित मरीजों बाबत संवाद हेल्प डेस्क स्थापित

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश ने अस्पताल में भर्ती कोविड पॉजिटिव व कोविड आशंकित मरीजों के स्वास्थ्य से संबंधित जानकारी उनके तीमारदारों तक पहुंचाने के उद्देश्य से संवाद हेल्प डेस्क स्थापित की है। लिहाजा ऐसे लोग अथवा अटेंडेंट जिनके पेशेंट एम्स अस्पताल में को​विड के उपचार के लिए भर्ती हैं, वह संवाद डेस्क को व्हाट्सऐप संदेश भेज कर अथवा दूरभाष संपर्क साधकर अपने मरीज के स्वास्थ्य से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। अस्पताल की ओर से इसके लिए बाकायदा हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए गए हैं।

          एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत जी के निर्देश पर एम्स प्रशासन ने अस्पताल के कोविड वार्ड व कोविड आइसोलेशन वार्ड में भर्ती मरीजों के स्वास्थ्य से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराने के लिए संवाद हेल्प डेस्क की स्थापना की है। भर्ती मरीजों के परिजनों व तीमारदारों तक उनके पेशेंट के स्वास्थ्य से संबंधित संपूर्ण जानकारी मुहैया कराने के लिए एम्स अस्पताल की ओर से स्थापित संवाद डेस्क संबंधित वार्डों में भर्ती मरीजों की हेल्थ अपडेट लेकर उसे डेस्क के माध्यम से मरीजों के परिजनों व तीमारदारों को उपलब्ध कराएगी। संस्थान के डीन अस्पताल प्रशासन प्रो यू बी मिश्रा जी ने बताया कि चूंकि स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार की गाइड लाइन व दिए गए प्रोटोकॉल के तहत कोविड आशंकित अथवा कोविड पॉजिटिव पेशेंट से मिलने की अनुमति किसी को नहीं है, ऐसे में भर्ती मरीजों का हालचाल उनके परिजनों व तीमारदारों तक पहुंचने में आ रही व्यवहारिक दिक्कतों के मद्देनजर हेल्प डेस्क स्थापित की गई है। उन्होंने बताया कि एम्स अस्पताल में कोविड मरीजों से संबंधित जानकारी अब संवाद हेल्प डेस्क के जरिए सिर्फ मरीज के परिजनों व अटेंडेंट को ही उपलब्ध कराई जाएगी। इसके लिए वह हेल्पडेस्क दूरभाष नंबर- 0135 2462929 व व्हाट्सऐप नंबर 7217014336 पर संपर्क स्थापित कर अपने मरीज के स्वास्थ्य से जुड़ी अपडेट ले सकते हैं। इसके साथ ही उक्त दोनों नंबर पर फोन कॉल व वाट्सएप संदेश भेजकर आप अपने मरीज से संबंधित जानकारी ले सकते हैं। इसके लिए जानकारी लेने वाले व्यक्ति को भर्ती मरीज के ब्लॉक,वार्ड व बेड संख्या हेल्प डेस्क को बतानी होगी। उन्होंने बताया कि हेल्प डेस्क 24 घंटे सुचारू रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *