यमकेश्वर ब्लॉक मिनी नासिक चमनपुर गौं रैवासी प्रगतिशील किसान, पूर्व प्रधान कना छन कमाल

नासिक शहर एक त कुंभ बाबत जणै जांद, दूसर नासिक प्याज शहर नाम से जणे जांद, हर कैख मुक्ख प्याज लीण बगत लोग बुल्दन कि यू नासिक प्याज छ। यनी एक नासिक यमकेश्वर ब्लॉक नीलकंठ नजीक अर हिडोंला बजार समणी चमनुपर गॉव छ जू धंमाद ग्राम सभा गॉव छ। चमनपुर तै प्याज बाबत जणै जांद, स्थानीय लोग यख कुणी चड़ गॉव भी बुल्दन लेकिन ये गॉव नाम चमनपुर छ। चमनपुर प्याज पूर यमकेश्वर ब्लॉक मा सप्लाई ह्वे करदू। यख एक फसल मा लोगू 60 से 100 कुंतल तकन प्याज ह्वे करदू ये दगड़ी यख रैवासी प्याज पौध अर बीज क भी विपणन स्थानीय गॉव मा करदन।


यमकेश्वर मिनी नासिक मा सिरफ प्याज ही ना बल्कण मौसमी सब्जी जन कि ये बगत शिमला मिर्च, बैंगन, भिण्डी, टमाटर, अर ह्यूंद बगत ब्रोकली, गोभी, पालक सब्बी सब्जी यख रैवासी अपर पुंगड़ मा करदन। यख रैवासी एक प्रगतिशील किसान छन, यी छ्वटी मशीन बिटी अपर पुंगड़ तै आबाद कना छन, सैद ही गॉ नजीक क्वी पुंगड़ी बांझ ह्वाळ जैमा यूंक कुछ बुयूं या सब्जी नी लगयीं ह्वेली।

चमनपुर रैवासी अर पूर्व प्रधान धंमाद रविन्द्र नौटियाल जी पिछल 10 साल बिटी यख प्याज ही ना बल्कण सब्जी उत्पादन करी कन कमाणा छन, रविन्द्र नौटियाल जी न बतै कि हमुन ये साल 70 हजार रूप्या प्याज पौध बेची अर लगभग 80 क्वेंटल करीब प्याज बेची। ये दगड़ी उन एक सीजन मा लगभग 25 किलो प्याज बीज भी स्थानीय गॉव रैवासियूं तै बेची। उंक पडौसी उं जणी दूसर प्रगतिशील किसान दरबान सिंह न ये साल लगभग 105 क्वेंटल प्याज विपणन करी।

रविन्द्र नौटियाल जी न बतै कि हमर चमनपुर मा सब्बी पुंगडी आबाद छन, यख हम पांरपरिक खेती दगड़ा दगड़ी सब्जी उत्पादन पर ज्यादा ध्यान दे करदा। हमर सब्जी दिउली मंडी नीलकंठ बजार अर प्याज त सरा यमकेश्वर मा जै करदू। लगभग पयळ सिंह सब्बी गौं चमनपुर बिटी प्याज ले करदन।

रविन्द्र नौटियाल जी न ब्वाल कि 20 साल तकन हमुन सड़क बाबत संघर्ष करी तब जैकन यख सड़क आयी, आज सड़क आण से अपर पिकअप गाड़ी मा हम डिमाण्ड हिसाब से यमकेश्वर ह्यूंल नदी पार अर नीलकंठ आसपास गौं मा प्याज लेकन जै करदा। रविंन्द्र नौटियाल जी बीजेपी कार्यकर्ता रैन, आप धंमाद गॉव पूर्व प्रधान अर नीलकंठ महादेव संयोजक भी रैन। रविन्द्र नौटियाल नौन प्रदीप नौटियाल भी दिउली मा ही बैंक मा संविदा पर काम करदू, अर ये दगड़ी सब्जी अर खेती मा अपर पिताजी हत्थ उसरद। उन बतै कि हम महीना की लगभग 5 से सात हजार रूप्या मुनाफा सब्जी मा कमै करदा।

रविन्द्र नौटियाल तै कृषि विभाग बिटी ब्लॉक स्तर से भी सम्मानित करे ग्यायी। आप तै प्रगतिशील किसान से सम्मानि करी कन 10 हजार रूप्या चैक अर प्रशस्ति पत्र देकन आप सम्मान करी कन लोगू तै प्रेरणा दीये ग्यायी। रविन्द्र नौटियाल बतै करदन कि कैन ब्वाल कि पहाड़ मा कुछ नी हूंद, धरती आज भी उथगा ही पैदावार कना जथगा पैल करदी छेयी, हॉ लोगू खेती तरफ रूझान कम हूण से जंगळी जानवरौं तादाद जरूर बढी ग्यायी। हम तै सबसे ज्यादा दिक्कत गूणी बांदरौं से आंद, बाकि मेहनत सब्बी जगह कन पड़द।

उन बतै कि हमर पूर परिवार मिली कन ये काम तै करदू, म्यार लिड़क ब्वारी नाती नतणा दगड़ी छन, मी तै यीं बात खुशी छ कि उ नौकरी नी कना बाद भी घर मा अपर परिवार तै पळणा बाबत बढिया आमदनी कना छन, उन ब्वाल कि आज जमन मा संसाधन भी बौत छन, परेशनी अर त्याग जरूर कन पडद लेकिन धेय से करे जाव त हर काम मा सफलता जरूर मिलै करदी।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *