पश्चिमी सभ्यता क पैरोकारों कुणी  सीएम तीरथ न ब्वाल, मि तै जींस से ना, फटी जींस से ऐतराज छ, कै तै नखरू  लग ह्वा त क्षमा चांदू

देहरादून ।  उत्तराखंड क मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत द्वारा युवाओं बाबत आयोजित एक कार्यक्रम मा बुली बात कि आजकल पढ़वळी फटी जींस पहनि कन चलणा छन, क्‍या यी सही च, यी कन संस्‍कार छन? सीएम क यी बयान कुछ लोगू न जाण बुझी कन सोशल मीडिया पर ये टैग दगड़ी वायरल कर दिए ग्यायी कि महिलाओं क पहनावा क अपमान करे ग्यायी।  बयान क समणि आण  बाद आम जनता न बड़ी संख्या मा सोशल मीडिया क माध्यम से एक समर्थन करी अर ये समर्थन मा लिखण दगड़ी मुख्यमंत्री क बयान पर सवाल उठाण ह्वाल तै करार जवाब द्याय।  वखि पश्चिमी सभ्यता क पैरवी कन ह्वाल चंद लोगू अर विपक्षी राजनीतिक दलों न ये बयान पर राजनीति शुरू कन दगड़ी मुख्यमंत्री क छवि तै धूमिल कन शुरू कर याल। ये बयान तै सोशल मीडिया मा ट्रोल करये ग्यायी। जैक बाद मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत न समणि एकन पूर मामला पर अपरी बात ब्वाल। उन् ब्वाल मि तै  जींस से ना , फटी जींस से ऐतराज च। जींस त मि भी पहनदू छ्यायी लेकिन अब कै तै फटी जींस ही पहनण त मि क्या कर सकदू? कै तै म्यार बुल्यू नखरु लग त मि क्षमा चांद.

बते दिवा कि उत्‍तराखंड क सीएम न बयान दे छ्यायी कि आजकल युवा फटी जींस पहनि कन चलणा च क्‍या यी ठीक च, यी कन संस्‍कार छन? सीएम क बयान सोशल मीडिया पर वायरल ह्वाई। हालांकि मामला बढ़द देखी कन सीएम तीरथ सिंह रावत न ब्वाल क कि अगर उकी बात कै तै नखरी लगी ह्वाव त ये बाबत माफी मंगदू।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *