Thursday, September 23, 2021
Home उत्तराखंड देहरादून में फर्जी डॉक्टर्स सालों से कर रहे थे मरीजों का इलाज,...

देहरादून में फर्जी डॉक्टर्स सालों से कर रहे थे मरीजों का इलाज, जांच में डिग्री निकली फ़र्जी

देहरादून। राजधानी देहरादून में लम्बे समय से प्रैक्टिस कर रहे चार प्राइवेट आयुर्वेद डॉक्टरों की डिग्री फर्जी पाई गई है। इसके बाद भारतीय चिकित्सा परिषद उत्तराखंड ने चारों डॉक्टरों का पंजीकरण निरस्त करते हुए मुख्य चिकित्साधिकारी को कार्रवाई के लिए पत्र लिखा है। चिकित्सा परिषद के अधिकारियों ने बताया कि आयुर्वेद के इन चारों डॉक्टरों की ओर से भारतीय चिकित्सा परिषद में पंजीकरण कराया गया था।

डॉक्टरों की ओर से पंजीकरण के लिए कर्नाटक बोर्ड ऑफ आयुर्वेदिक यूनानी प्रैक्टिशनर बैंगलोर का अनापत्ति प्रमाण पत्र प्रस्तुत किया गया था। लेकिन उत्तराखंड परिषद की ओर से जब सत्यापन के लिए कर्नाटक बोर्ड से संपर्क किया गया तो बोर्ड ने अनापत्ति प्रमाण पत्र को फर्जी बताया है। यह मामला सामने आने के बाद परिषद की ओर से पहले डॉक्टरों का पंजीकरण अस्थाई तौर पर निरस्त किया गया और अब अंतिम रिपोर्ट आने के बाद पंजीकरण को स्थाई तौर पर निरस्त कर दिया गया है। भारतीय चिकित्सा परिषद की रजिस्ट्रार नर्वदा गुसांई की ओर से इस संदर्भ में आदेश भी किए गए हैं। इसके साथ ही उन्होंने देहरादून के मुख्य चिकित्साधिकारी को पत्र लिखकर डॉक्टरों के खिलाफ कार्रवाई का भी अनुरोध किया है। विदित है कि जिले में गलत तरीके से प्रैक्टिस कर रहे डॉक्टरों के खिलाफ कार्रवाई का अधिकार सीएमओ को है। इसलिए इस संदर्भ में सीएमओ को पत्र लिखा गया है।

भारतीय चिकित्सा परिषद की ओर से चार आयुर्वेदिक डॉक्टरों का पंजीकरण निरस्त किए जाने के बाद अब शहर में प्रैक्टिस कर रहे कई अन्य डॉक्टरों के दस्तावेज भी फर्जी होने की आंशका है। सूत्रों ने बताया कि ऐसे डॉक्टरों के खिलाफ जल्द कार्रवाई हो सकती है। जिन चार डॉक्टरों पर कार्रवाई हुई हैं उन्होंने अपने स्थाई निवास तुनवाला देहरादून बताए हैं।

RELATED ARTICLES

उत्तराखंड में बेहतर शिक्षा व्यवस्था के लिए समर्पित पुष्कर सरकार

छात्र-छात्राओं के हित में सीएम धामी ने लिए ऐतिहासिक निर्णय उत्तराखंड के युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेश में शिक्षा व्यवस्था में बुनियादी सुधार...

अच्छी ख़बर :- उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों में निजी अस्पताल खोलने पर सरकार देगी सहयोग, जानिए क्या है प्लांनिग

देहरादून। चिकित्सा स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि पर्वतीय क्षेत्रों में निजी अस्पताल खोलने पर सरकार मानकों में शिथिलता प्रदान करने...

चकराता विधानसभा के इस गांव में 12 साल बाद पहुंची बस, ग्रामीण बोले जिलाधिकारी हो तो राजेश कुमार जैसा

देहरादून। उत्तराखंड की धामी सरकार में विकास का पहिया गांव-गांव तक पहुंच रहा है। राज्य के दूरस्थ गांवों तक अधिकारी पहुंचकर जनता की समस्याओं...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

उत्तराखंड में बेहतर शिक्षा व्यवस्था के लिए समर्पित पुष्कर सरकार

छात्र-छात्राओं के हित में सीएम धामी ने लिए ऐतिहासिक निर्णय उत्तराखंड के युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेश में शिक्षा व्यवस्था में बुनियादी सुधार...

अच्छी ख़बर :- उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों में निजी अस्पताल खोलने पर सरकार देगी सहयोग, जानिए क्या है प्लांनिग

देहरादून। चिकित्सा स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि पर्वतीय क्षेत्रों में निजी अस्पताल खोलने पर सरकार मानकों में शिथिलता प्रदान करने...

चकराता विधानसभा के इस गांव में 12 साल बाद पहुंची बस, ग्रामीण बोले जिलाधिकारी हो तो राजेश कुमार जैसा

देहरादून। उत्तराखंड की धामी सरकार में विकास का पहिया गांव-गांव तक पहुंच रहा है। राज्य के दूरस्थ गांवों तक अधिकारी पहुंचकर जनता की समस्याओं...

25 सितंबर को आमने सामने होंगे भारत पाकिस्‍तान

नई दिल्ली। अमरीका के न्यूयार्क शहर में आगामी 25 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र महासभा के दौरान सार्क विदेश मंत्रियों की बैठक होगी। इस बैठक...

आने वाले हैं अच्‍छे दिन, कोरोना से नहीं पड़ेगा डरना

वासिंगटन। संक्रामक रोग विज्ञान में संचारी रोगों की रोकथाम के स्तर की परिभाषाएं दी गई हैं। नियंत्रण का अर्थ है वैक्सीन जैसे जनस्वास्थ्य उपायों...

राइंका हरबर्टपुर के दो छात्र कोरोना संक्रमितए अग्रिम आदेश तक विद्यालय बंद

विकासनगर। ब्लॉक क्षेत्र के राजकीय इंटर कॉलेज हरबर्टपुर के दो छात्रों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने के बाद विद्यालय को अग्रिम आदेश तक...

छात्र की मौत में शिक्षक छात्र समेत अन्य पर केस दर्ज

रुद्रपुर। एक निजी इंटर कॉलेज में छात्र की संदिग्ध अवस्था में मौत के मामले में एक छात्र व उसके साथियों समेत विद्यालय के शिक्षकों...

कुमाऊं एवं गढ़वाल मंडल विकास निगम के धरने में गरजे धस्माना

देहरादून। अपनी 13 सूत्रीय मांगों को लेकर पिछले 9 दिनों से कार्य बहिष्कार व धरना प्रदर्शन कर रहे गढ़वाल मंडल विकास निगम व कुमाऊं...

उत्तराखंड की तीन वामपंथी पार्टियां मिलकर लड़ेंगी विधानसभा चुनाव

देहरादून। उत्तराखंड में आगामी 2022 के विधान सभा चुनाव में उत्तराखंड की तीन वामपंथी पार्टियां भाकपा, माकपा, भाकपा (माले) प्रगतिशील, धर्मनिर्पेक्ष और राज्य समर्थक...

अब आनलाईन बनेंगे दिव्‍यांगों के पास

देहरादून। ट्रेन में यात्रा करने वाले दिव्यांगों को रेल पास बनवाने के लिए अब रेलवे मंडल कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। दिव्यांगों की...