डेढ साल बिटी सरकारी भर्ती बाबत खुपरी खपाण छन अधेड़ युवा, लेकिन सरकार मरी बौग, अब बेरोजगारूं न उठैं मॉग

समूह ग पदौं भर्ती डेढ साल बिटी नी ह्वायी, अर अलग अलग कारणौ से लटकी च, जै से सैकड़ों अधेड़ अपर भविष्य तै लेकन परेशान छन। उन प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री अधीनस्थ चयन आयोग तै चिठ्ठी लेखी कन खाली पदौं पर मंगे जाण ह्वाळ आवेदनौ मा उम्र गणना 01 जनवरी 2019 कना की मॉग उठै।
समूह ग तैयरी कन ह्वाळ अधेड़ युवा अपर मुण्ड किताबू मा खपाणा छन, लेकिन आयोग अजों तकन क्वी प्रतियोगिता परीक्षा नी उरै साकी। लोकसभा चुनौं रोजगार कार्यालय मा पंजीकरण अनिवार्यता बाबत अदालत मा मामला हूण से अर वैक बाद फिर आर्थिक रूप मा कमजोर वर्ग खातिर 10 प्रतिशत आरक्षण दीण प्रक्रिया चलद आयोग न भर्ती परीक्षा नी करे साकी। अब जैकन यी सब्ब प्रक्रिया पूर ह्वेन त एक जुलाई बिटी उम्र गणना हूण कारण हजारों अधेड़ युवा बेरोजगार हत्थु बिटी सरकरी नौकरी मौका निकळी ग्यायी। जबकि डेढ साल बिटी क्वी लिखित परीक्षा हूंद त वैमा उं तै मौका मिलदू। ये कारण उन प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री अर अधीनस्थ चयन आयोग तै चिठ्ठी लेखी कन बेरोजगारू न आवाज उठै।
उत्तराखण्ड अधीनस्थ चयन आयोग सचिव संतोष बडोनी ये बाबत ब्वाल कि उम्र सीमा मामला आयोग क्षेत्र से भैर कू छ। यू सरकार अधिकार मा ऐ करदू कि उ क्या सीमा निर्धारित करदन। हालांकि उ ये बात से कुछ हद तकन सहमम भी छन कि आयोग कै कारणौ से लिखित परीक्षा तै स्थगित कन पड़ी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *