अच्छी ख़बर :- उत्तराखंड मा इन्टरनेट स जुड़ल 12 हजार गाँव, भारत नेट 2.0 प्रोजेक्ट तै भारत सरकार बिटी हरी झंडी

अच्छी ख़बर :- उत्तराखंड मा इन्टरनेट स जुड़ल 12 हजार गाँव, भारत नेट 2.0 प्रोजेक्ट तै भारत सरकार बिटी हरी झंडी।

नई दिल्ली। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत न सोमवार कुणी नई दिल्ली मा केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद दगड़ी मुखाभेंट करी। वार्ता मा चारधाम क्षेत्र की डिजिटल कनेक्टिविटी तै मज़बूत बणाण पर सहमति बणी।  ये दगड़ी ही यी निर्णय लिये ग्यायी कि बॉर्डर एरिया मा इन्टरनेट कनेक्टिविटी क सुदृढ़ीकरण बाबत प्रोजेक्ट बणये जाल।

केन्द्रीय मंत्री से भेंट दौरान मुख्यमंत्री न उत्तराखण्ड मा ‘इंडिया एंटरप्राइज आर्किटेक्चर’ परियोजना शीर्ष प्राथमिकता से लागू करे जाण क अनुरोध करी। मुख्यमंत्री न सैद्धांतिक रूप मा स्वीकृत भारतनेट फेज-2 परियोजना क प्रशासनिक एंव वित्तीय अनुमोदन शीघ्र कन ख़ातिर भी आग्रह करी।

मुख्यमंत्री न ब्वाल कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी क मार्गदर्शन अर केन्द्र सरकार क महत्वपूर्ण सहयोग से उत्तराखण्ड मा बड़ू पैमाना पर विकास कार्य हूणा छन्न। उत्तराखंड कठिन भौगोलिक, महत्वपूर्ण सामरिक स्थिति अर आपदा कुणी संवेदनशीलता क जिक्र करी कन मुख्यमंत्री न ब्वाल कि भारतनेट परियोजना की स्टेट-लेड माॅडल मा समयबद्धता दगड़ी क्रियान्विति बहुत जरूरी च। परियोजना मा अनावश्यक विलम्ब न ह्वाव, ये बाबत  प्रशासनिक अर वित्तीय अनुमोदन जल्द से जल्द दिये जाव।

मुख्यमंत्री न ब्वाल कि ‘इंडिया एंटरप्राइज आर्किटेक्चर’ परियोजना मा उत्तराखण्ड तै भी शामिल करे जाव ताकि कृषि, स्वास्थ्य, शिक्षा जणी विभागों की कार्यप्रणाली तै राज्यव्यापी कम्प्यूटरीकृत कर सको । कोरोना संकट से सीख लेकन इन कन बहुत जरूरी छ।
केंद्रीय मंत्री न मुख्यमंत्री तै हरसम्भव सहयोग बाबत आश्वस्त करी।

अच्छी ख़बर :- उत्तराखंड मा इन्टरनेट स जुड़ल 12 हजार गाँव, भारत नेट 2.0 प्रोजेक्ट तै भारत सरकार बिटी हरी झंडी

नई दिल्ली। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत न सोमवार कुणी नई दिल्ली मा केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद दगड़ी मुखाभेंट करी। वार्ता मा चारधाम क्षेत्र की डिजिटल कनेक्टिविटी तै मज़बूत बणाण पर सहमति बणी।  ये दगड़ी ही यी निर्णय लिये ग्यायी कि बॉर्डर एरिया मा इन्टरनेट कनेक्टिविटी क सुदृढ़ीकरण बाबत प्रोजेक्ट बणये जाल।

केन्द्रीय मंत्री से भेंट दौरान मुख्यमंत्री न उत्तराखण्ड मा ‘इंडिया एंटरप्राइज आर्किटेक्चर’ परियोजना शीर्ष प्राथमिकता से लागू करे जाण क अनुरोध करी। मुख्यमंत्री न सैद्धांतिक रूप मा स्वीकृत भारतनेट फेज-2 परियोजना क प्रशासनिक एंव वित्तीय अनुमोदन शीघ्र कन ख़ातिर भी आग्रह करी।

मुख्यमंत्री न ब्वाल कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी क मार्गदर्शन अर केन्द्र सरकार क महत्वपूर्ण सहयोग से उत्तराखण्ड मा बड़ू पैमाना पर विकास कार्य हूणा छन्न। उत्तराखंड कठिन भौगोलिक, महत्वपूर्ण सामरिक स्थिति अर आपदा कुणी संवेदनशीलता क जिक्र करी कन मुख्यमंत्री न ब्वाल कि भारतनेट परियोजना की स्टेट-लेड माॅडल मा समयबद्धता दगड़ी क्रियान्विति बहुत जरूरी च। परियोजना मा अनावश्यक विलम्ब न ह्वाव, ये बाबत  प्रशासनिक अर वित्तीय अनुमोदन जल्द से जल्द दिये जाव।

मुख्यमंत्री न ब्वाल कि ‘इंडिया एंटरप्राइज आर्किटेक्चर’ परियोजना मा उत्तराखण्ड तै भी शामिल करे जाव ताकि कृषि, स्वास्थ्य, शिक्षा जणी विभागों की कार्यप्रणाली तै राज्यव्यापी कम्प्यूटरीकृत कर सको । कोरोना संकट से सीख लेकन इन कन बहुत जरूरी छ।
केंद्रीय मंत्री न मुख्यमंत्री तै हरसम्भव सहयोग बाबत आश्वस्त करी।

अच्छी ख़बर :- उत्तराखंड मा इन्टरनेट स जुड़ल 12 हजार गाँव, भारत नेट 2.0 प्रोजेक्ट तै भारत सरकार बिटी हरी झंडी

नई दिल्ली। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत न सोमवार कुणी नई दिल्ली मा केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद दगड़ी मुखाभेंट करी। वार्ता मा चारधाम क्षेत्र की डिजिटल कनेक्टिविटी तै मज़बूत बणाण पर सहमति बणी।  ये दगड़ी ही यी निर्णय लिये ग्यायी कि बॉर्डर एरिया मा इन्टरनेट कनेक्टिविटी क सुदृढ़ीकरण बाबत प्रोजेक्ट बणये जाल।

केन्द्रीय मंत्री से भेंट दौरान मुख्यमंत्री न उत्तराखण्ड मा ‘इंडिया एंटरप्राइज आर्किटेक्चर’ परियोजना शीर्ष प्राथमिकता से लागू करे जाण क अनुरोध करी। मुख्यमंत्री न सैद्धांतिक रूप मा स्वीकृत भारतनेट फेज-2 परियोजना क प्रशासनिक एंव वित्तीय अनुमोदन शीघ्र कन ख़ातिर भी आग्रह करी।

मुख्यमंत्री न ब्वाल कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी क मार्गदर्शन अर केन्द्र सरकार क महत्वपूर्ण सहयोग से उत्तराखण्ड मा बड़ू पैमाना पर विकास कार्य हूणा छन्न। उत्तराखंड कठिन भौगोलिक, महत्वपूर्ण सामरिक स्थिति अर आपदा कुणी संवेदनशीलता क जिक्र करी कन मुख्यमंत्री न ब्वाल कि भारतनेट परियोजना की स्टेट-लेड माॅडल मा समयबद्धता दगड़ी क्रियान्विति बहुत जरूरी च। परियोजना मा अनावश्यक विलम्ब न ह्वाव, ये बाबत  प्रशासनिक अर वित्तीय अनुमोदन जल्द से जल्द दिये जाव।

मुख्यमंत्री न ब्वाल कि ‘इंडिया एंटरप्राइज आर्किटेक्चर’ परियोजना मा उत्तराखण्ड तै भी शामिल करे जाव ताकि कृषि, स्वास्थ्य, शिक्षा जणी विभागों की कार्यप्रणाली तै राज्यव्यापी कम्प्यूटरीकृत कर सको । कोरोना संकट से सीख लेकन इन कन बहुत जरूरी छ।
केंद्रीय मंत्री न मुख्यमंत्री तै हरसम्भव सहयोग बाबत आश्वस्त करी।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *