ऐ ग्यायी चून रूटी, गथ फ़ाणु, झुंगर, भुज्यु भट्ट अर वेकी भटकवणी, घर्या दाळ खाणा बगत

घर्या गथ, भट, रयांस जणी दाल अर चून रूटी खाण क सीजन ऐ ग्याई। ठंड क दिनू मा यू दाल की मांग काफी बढ़ जांद। यी बार गथ 130 रुपये प्रति किलो तक बिकण छन। दिल्ली, मुंबई समेत महानगर मा रैवास कन ह्वाल पहाड़ क लोग भी यू दिनू मा गथ, भट, रैंस, राजमा जणी दाल तै मंगवाणा छन। विदेश मा रैवास कन ह्वाल पहाड़ी लोगू कुणी भी या दाल भिज्याणा च। यी कारण च कि हर साल गथ अर भट कीमत मा बढ़ी गे।

Loading...

अल्मोड़ा जिले क धौलादेवी ब्लॉक क भनोली, पपोली, शहरफाटक आर ताकुला समैत कुछ ब्लॉक मा गथ, भट खूब दाल की अच्छी पैदावार हूंद। काश्तकार यूं दाल तै बजार मा बेच दे करदन । पिछल साल गथ 120 रुपये किलो बिकिन। लेकिन यी बार 130 रुपये किलो हुयू। हालांकि होर दाल ज्यादा नि बढ़ींन। गथ की दाल पथरी क रोगि कुणी फायदेमंद हूंद। ह्यून्द बगत लोग भट क चुड़काणी, डुबक, भट भूजी कन अर रयांस दाळ स्वाद भी लीदन। भट की दाल पीलिया अर होर रोगों मा फायदेमंद हूंद।
पहाड़ी दाळ बीचण ह्वाल खीमानंद भट्ट न बते कि गथ अर भट की दाल की मांग ज्यादा च। हर रोज उकी दुकान बिटी दस किलो गथ बिक जदन। ये बगत दिल्ली, मुंबई, बंगलूरू समेंत देश क तमाम बड़ शहर ही ना विदेशू मा रैवास कन ह्वाल प्रवासी लोग भी गथ भट, राजमा चून मंगवाणा छन। गहत, भट्ट क अलावा सोयाबीन, राजमा, उड़द जणी दाळ क अलावा पहाड़ी बड़ी, मूंग दाल की मंगोड़ी की भी काफी मांग च। पहाड़ी बड़ी चार सौ अर मंगोड़ी तीन सौ रुपये किलो बिकणी छन।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *