लोकसभा चुनाव 2019ः पूर्व मुख्यमंत्री बीसी खंडूडी ब्वाल कि मी छौं सच्चू सिपै अर पक्कू भाजपै, जरूरत पड़ली त करलू पार्टी कुणी बेटा खिलाफ प्रचार

उत्तराखण्ड की गढवाळ संसदीय सीट बटी सांसद अर पूर्व मुख्यमंत्री मेजर जनरल (सेवा निवृत्त) भुवन चन्द्र खंडूडी न ब्वाल कि उ भाजपा क समर्पित सदस्य छन अर जरूरत पड़ली तन उ अपर नौन खिलाफ भी चुनाव प्रचार करल। बेटा मनीष खडूंडी क कागं्रेस मा रळयाण बाद पूर्व सीएम बीसी खडूंडी न अपरी बात बेबाकी से रखी अर ब्वाल कि उ भाजपा क सदस्य छन अर राल। जिबर तकन सांस चलणी च तबरी तकन पार्टी खातिर समर्पित राल। पार्टी अगर उंते बेटा खिलाफ प्रचार कुणी ब्वाल त तब वैसे भी उ पैथर नी हटणा, जथगा भी उ पर ताकत च पार्टी कुणी लगाल।
राहुल गॉधी म्यार नाम लेकन करी गेन राजनीति
सांसद खडूंडी बेटा काग्रेंस मा शामिल हूण पर ब्वाल कि सब्यूं की अपर अपर विचारधारा च। बेटा की ज्वा विचारधारा रै ह्वेली वैन वै हिसाब से स्वाची अर कदम उठायी, ये मा उ भी कुच्छ नी कर सकदन। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गॉधी क डिफेंन्स कमेटी अध्यक्ष पद बटी हटाण पर वैक राजनीतिककरण कन पर खंडूडी ब्वाल कि या त राजनीति कना छन राहुल गॉधी। राजनीति मा क्वी कैक भी नाम फैदा उठांद ये मा उ भी क्या कर सकदन। ये मा कै तै दोष दीण ठीक नी च,किलैकि राजनीति चीज यीनी च।
फौज न बौत कुछ द्यायी, क्वी शिकैत नी च
उन ब्वाल कि 30 साल तकन फौज की नौकरी करी। फौज न उंते बौत कुच्छ द्यायी। फौज तै लेकन उंकी क्वी शिकैत नी च। रक्षा समिति क अध्यक्ष पद पर रैकन बौत काम करीन जौ मा बौत पूर ह्वे गेन अर कुच्छ कै बजह से पूर नी ह्वे पैन। डिफैन्स कमेटी रिपोर्ट क जिकर कन ठीक बात नी च। खडूंडी न ब्वाल कि भाजपा न उंते बौत सम्मान द्यायी। उंक राष्ट्रीय अर प्रदेश नेतृत्व से क्वी शिकैत नी च। छुट मुट मनमुटाव त परिवार मा हूणा रंदीन, उन फिर दुबर ब्वाल कि अब लोकसभा क चुनाव नी लड़ल।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *