लोकसभा चुनाव 2019 चुनावी सरगमी मा या च काग्रेंस नै नारा

उत्तराखण्ड मा जन जन चुनौ दिन नजीक आणा छन तन तन नै नै बात समणी आणा छन। उत्तराखण्ड मा अपर सियासी दावं चलण मा द्वी राष्ट्रीय पार्टी क्वी कसर नी छुड़न चाणा छन। जगहा जगहा नेता अर कार्यकर्तां को सियासी बैठकू दौर चलणा च। यनी उत्तराखण्ड कांग्रेस प्रदेश प्रभारी अनुग्रह नारायण सिंह न एक बैठक मा ब्वाल कि लोगू तै हवाई सुपीन दिखाण ह्वाळ प्रधानमंत्री मोदी क जद्दू अब खतम ह्वे ग्यायी। उंक तरफ बटी फैलायाण ह्वाळ झूठ का पर्दाफाश ह्वे ग्यायी। मोदी सरकार मा राफेल क कागज लीक हूण मामला से लेकन सीबीएसई अर एसएससी तकक क पेपर लीक ह्वे गेन।
रामनगर रोड़ स्थित कांग्रेस महानगर अध्यक्ष संदीप सहगल क कार्यालय मा पत्रकारू दगड़ी बातचीत मा प्रदेश प्रभारी न ब्वाल कि केन्द्र सरकार खातिर लोगू मा जनाक्रोश हूण भाजपा मा भगदड़ सी मच्यूं च। मोदी सरकार न कुच्छ बड़ू कॉरपोरेट लोगू तै फैदा पॅहुचे कन आम जनता क हित पर कुल्हड़ी मारी। सरकार न रोजगार तै बढावा दीण बजाय केन्द्रीय नौकरियू क 11 लाख पद होर कम कर देन। नै पढवळी तै पान से लेकन चाय पकौड़ी तळण की सलाह दियाणा च।
कांग्रेस बैठक मा लोकपाल, राफेल, अर ब्यापम घोटाला से लेकन सरकार अपरी जबाबदेही से बचण क प्रयास करयाणा च। यदि मोदी सरकार मा रक्षा अर रोजगार परीक्षा जणी महत्वपूर्ण दस्तावेज घुम या लीक हूणा छन त चौकीदार की भूमिका पर सवाल उठण त आम बात च। यख पूर्व सांसद केसी सिंह बाबा, महेन्द्र सिंह पाल, विधायक आदेश चौहान, मनोज जोशी, मुक्ता सिंह डॉ दीपिका, गुडिया, इंदूमान राशिद, फारूखी रवि छाबडा मौजूद छ्यायी। यी बैठक मा काग्रेस न ये चुनावी समर 2019 क नै नारा बतायी कि ’पेपर लीक मोदी वीक’। दिखण ह्वाळ बात या च कि ये नारा क जनता पर कथगा असर पड़ल यी त आण ह्वाळ बगत ही बताल।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *