लोकसभा चुनाव 2019 बजी ग्यायी बिगुलः उत्तराखण्ड मा सीट जीताण खातिर आल मोदी, शाह अर गडकरी, यूं दगड़ी यी भी ह्वाळ स्टार प्रचारक

लोकसभा चुनाव क दिनवार ह्वे ग्यायी। दिनवार तय हूण से पैली भाजपा न अपर चुनावी मुद्दो तै पळयाणा खातिर अब्बी बटी धार दीण शुरू करयाली। यीं धार तै पैन कना खातिर यख ऐकन कत्ती अपर अणस्वाळ लगाल। अणस्वाळ लगाणा खातिर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष, अमित शाह, अर केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी, समेत पार्टी क जण्या मण्या कद्दवार नेता लोगू तै भाजपा प्रचार मैदान मा उतरण की योजना बणी ग्यायी। केन्द्र सरकार क पॉच साल कार्यकाल दौरान उत्तराखण्ड मा करये ग्यायी विकास काम क अलावा पार्टी प्रदेश सरकार क कामकाज पर वोट मॉगली। भाजपा क प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट क बुलणा च कि चुनाव मा राष्ट्रीय सुरक्षा प्रमुख मुद्दा ह्वाल, किलैकि पीएम मोदी न पिछल साल क दौरान देश कुणी एक मजबूत सुरक्षा कवच तैयार करयूं च अर आतंकी घटनाओं पर पूरी कठोरता क दगड़ी अंकुश लगाण की नजीर दिखायी।
मोदी की तीन रैली प्रस्तावित
चुनाव प्रचार दौरान पार्टी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की कम से कम तीन जनसभा कराण चांद। यूं मनन द्वी गढवाळ की हरिद्वार अर पौड़ी ंसंसदीय सीट अर एक कुमाऊं मण्डल मा कराणा की तैयरी मा च। यनी राष्ट्रीय अध्यक्ष की पॉच संसदीय क्षेत्रीय जनसभा अर रोड़ शो करल। केन्द्र अर प्रदेश सरकार की सबसे बड़ी प्राथमिकता चारधाम ऑलवेदर रोड़, राष्ट्रीय राजमार्ग की योजनाओं पर चलण ह्वाळ काम तै भी पार्टी चुनावी फायदा ल्याली। ये बाबत पार्टी केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गड़करी तै प्रचार मा उतार सकदी। येक अलावा, सुषमा स्वराज, स्मृति इरानी, निर्मला सीता रमण, राधामोहन सिंह, यूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, सांसद राजनाथ सिंह डॉ मुरली मनोहर जोशी, समेत कत्ती होर राष्ट्रीय नेतों तै लोकसभा क्षेत्र क समीकरण हिसाब से प्रचार मा उतारली।

Loading...

डबल इंजन क यूं फैसलों तै बताली सरकार

– चारधाम को जोड़ने वाली ऑलवेदर रोड
– ऋषिकेश कर्णप्रयाग रेलमार्ग परियोजना
– चार साल दौरान रेलवे मा निवेश बढ़ोतरी
– हरिद्वार, देहरादून अर हल्द्वानी रिंग रोड की स्वीकृति
– हरिद्वार-देहरादून कुणी गैस पाइप लाइन मंजूरी
– केदारनाथ धाम क पुनर्निर्माण
– नमामि गंगे योजना बीटी घाटों क पुनरोद्धार कुणी 600 करोड़
– 3340 करोड़ की समेकित सहकारी विकास परियोजना
– सरकारी नौकरियों में 10 प्रतिशत का आर्थिक आरक्षण
– आयुष्मान, उज्ज्वला, मुद्रा व किसान, मजदूर पेंशन योजना

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *