सुंगर बांदर से मुक्ति दिलाव, लावारिस गोरू से बचाव, नारा लेकन सड़क पर उतरनी जब गौं की जनानि

बांदर, संगंर अर लावारिस गोरू उत्पात न खेती किसानी पूर चौपट ह्वे ग्यायी। लोगू की अपर सगवड़ी मा लगयीं भुज्जी तै नी हूण दीणा छन। ये से परेशान ह्वे कन जनानियूं न जेठुआ मे कठ्ठी ह्वे कन झलूस निकाळी। जनानियूं बुलण छ कि अगर यूं की रोकथाम नी करे ग्यायी त हम बड़ू आंदोलन करला। बांदर, सुंगर अर लावारिस डंगरौं से परेशान जनानियूंअ र गौं रैवास्यूं सब्र टूटण पर लग्यूं छ। खेती किसानी खतरा बण्यूं। यूं जानवरू रोकथाम नी हूण से गौं लोगू खेती चौपट हूणी छ। ये परेशान ह्वे कन अल्मोड़ा चौखुटिया, जेठुआ अर वैक नजीक गौं जनानियूं न जेठुआ मा कठ्ठी ह्वेकन नाराबाजी करी कन झलूस निकाळी। ये दौरान यी जनानि सुंगर, बांदर से मुक्ति दिलाव, लावारिस गोर तै भगाव जणी नारा लगाणी छेयी। झलूस प्रदर्शन कन ह्वाळ मा दीपा जोशी, तारा, पुष्पा, जीवंती, तुलसी, शरला, कमला, भागा, दुर्गा, नंदी अर प्रभा समेत गौं की होर जनानि भी शामिल छेयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *