मसूरी विधानसभा से समाजसेवी मनीष गौनियाल ने किया चुनाव लड़ने का ऐलान, कहा जनता को इमोशनल ब्लैकमेल करते हैं विधायक गणेश जोशी

देहरादून। उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए एक साल से भी कम का वक़्क्त बचा है। रास्ट्रीय पार्टियों भाजपा-कांग्रेस ने जहां चुनाव प्रचार का शंखनाद कर दिया है। वहीं उत्तराखंड क्रांति दल व आम आदमी पार्टी भी अपना कुनवा बढाने में जुट गई है। इसके साथ ही चुनाव लड़ने के अन्य इच्छुक दावेदार भी एक-एक कर सामने आने लगे हैं।

ऐसे ही एक दावेदार मनीष गौनियाल ने आज मीडिया के सामने देहरादून की मसूरी विधानसभा से चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। भाजपा में रह चुके समाजसेवी मनीष गौनियाल निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़ेंगे।

उत्तरांचल प्रेस क्लब में मीडिया से बात करते हुए समाजसेवी मनीष गौनियाल ने मसूरी विधायक गणेश जोशी पर क्षेत्र की उपेक्षा के आरोप लगाए । मनीष गौनियाल ने कहा विधायक जी ने 9 साल से मसूरी विधानसभा को भूमाफिया का राज्य बना कर रखा है। जैसे-जैसे मैं क्षेत्र का भ्रमण कर रहा हूं और जनता की समस्या सुन रहा हूं वैसे वैसे विधायक जी को मेरे पीछे-पीछे कार्य करने की याद आ रही है। उन्होंने आज तक 9 साल में न तो क्षेत्रों में जाकर भ्रमण किया और ना ही लोगों की समस्याओं का समाधान किया ।

मनीष गौनियाल ने कहा कि गणेश जोशी मेरे काम को देख कर घबरा गए हैं । उन्हें 2022 के विधानसभा चुनाव में अपनी हार दिख रही है। कई सालों से सालावाला का पुल दुर्घटनाओं को आमंत्रण दे रहा था । वहां के लोगों ने कई बार विधायक गणेश जोशी जी को जाल लगाने को कहा पर गणेश जोशी ने अनदेखी कर दी । जब मैं वहां क्षेत्र भ्रमण में गया तो वहां क्षेत्रवासियों ने अपनी समस्या से मुझे अवगत कराया । मैंने तत्काल ही वहां जाल का काम शुरू करवा दिया। मौके पर विधायक गणेश जोशी ने मेरा काम रुकवा दिया और फिर दूसरे दिन वहां एक और दुर्घटना हो गई उसके पश्चात गणेश जोशी ने जाल का काम पूरा करवाया ।

मनीष गौनियाल ने कहा फिर उसके बाद मैंने कालिदास रोड का मुद्दा उठाया जहां 8 साल से रोड क्षतिग्रस्त थी वहां कई बार दुर्घटना हो चुकी थी। सड़क इतनी खराब थी जिस पर लोगों का चलना फिरना दूभर हो रहा था। लोगों ने कई बार विधायक गणेश जोशी से रोड बनाने की विनती की। विधायक जी ने लोगों की मांग अनदेखी कर दी। जब मैं वहां क्षेत्र भ्रमण में गया तो लोगों ने अपनी समस्या बताई। मैंने वहां मीडिया के माध्यम से आवाज उठाई । उसके दूसरे ही दिन बाद रोड बन कर तैयार हो गई ।

फिर मैंने क्यारा छरमौली गांव में जाकर भ्रमण किया क्षेत्रवासियों ने सड़क, स्वास्थ्य उच्च शिक्षा के बारे में बताया कि आज तक विधायक गणेश जोशी ने यहां कभी ध्यान नहीं दिया । यही नहीं यहां एक रोड़ का उद्घाटन कर दिया गया, जो रोड आज तक वहां बनी ही नहीं थी। जब मैंने मीडिया के माध्यम से क्षेत्र की जनता की समस्या को उजागर किया तो उसके दूसरे ही दिन गणेश जोशी जी वहां पहुंच गए।

फिर मैंने शिफॉन कोर्ट का मुद्दा उठाया जो कि नगर पालिका अध्यक्ष ने शिफॉन कोर्टवासियों को जमीन आवंटित करा दी थी। पर गणेश जोशी जी अनदेखी कर रहे थे जब यह मुद्दा उठा तो गणेश जोशी जी दूसरे ही दिन वहां पहुंच गए । मेरे क्षेत्र में मां भद्रकाली मंदिर मैं गणेश जोशी जी ने कई बार शौचालय बनाने की घोषणा की। लेकिन पर वह घोषणाएं बनकर रह गई । फिर मैंने जब वहां शौचालय का निर्माण कराया। तब गणेश जोशी जी भवन बनाने की बात कर रहे थे। अनार वाला शराब का ठेका खुलवाने में गणेश जोशी जी वह बीजेपी के कार्यकर्ताओं का अहम भूमिका रही। जब वहां के क्षेत्रवासी धरने पर बैठे हुए थे तब गणेश जोशी जी ने वहां पर आकर जनता को आश्वासन दिया कि ठेका नहीं खुलेगा । और ठेके में ताला लगवा दिया । उसके दूसरे ही दिन गणेश जोशी जी काठमांडू घूमने के लिए रवाना हो गए उस के दूसरे दिन ठेका खुल गया । इसमें गणेश जोशी जी का क्या स्वार्थ था, गणेश जोशी जी ने हमेशा ही जनता को गुमराह करा है और रोते हुए एक ही बार हमेशा दोहराते हैं कि मैंने गरीबी देखी है। 2022 में विधायक गणेश जोशी जी को जवाब देने के लिए तैयार है। इसी डर से गणेश जोशी जी जहां जहां में कार्य करने जा रहा हूं मेरे पीछे-पीछे गणेश जोशी जी कार्य करने पहुंच रहे हैं।

मनीष गौनियाल ने कहा मेरा तो खाली एक उद्देश्य है मसूरी विधानसभा का विकास करना और महिलाओं को सशक्त करना युवाओं को रोजगार दिलाना और हर समस्या का समाधान करना मेरे एकमात्र संकल्प यही है।

मनीष गोनियाल ने कहा कि
विधायक गणेश जोशी जी ने मसूरी विधानसभा क्षेत्र में विकास नहीं विनाश का काम किया है। इमोशनल ब्लैकमेल कर कर जनता को गुमराह करते रहे हैं। जनता 2022 में जवाब देने के लिए तैयार है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *