चलो उठाव कूटळ फॉल, आवा मिली अपर गौं की सड़क बणाव, सुनपटट् हुयां छन शासन प्रशासन उं तै जगै द्याव, यनी कुच्छ कना छन ये गॉव लोग

जब थक हारी कन कैन गॉव की लोगू खैरी विपदा नी समझी तब गौं लोगू अफी कुटळा, फौळ उठायी अर बणाण लगी गेन सड़क। शासन प्रशासन दगड़ी लिखा पढत करी गन गौं ह्वाळ थकी गेन तब उन यूं कुणी गौं मा आणा कुणी सड़क बाट अफी बणाण शुरू करी। टिहरी कांगड़ा गॉव क लोगू न गॉव तकन सड़क पौछाण खातिर गैंती, फौळू अर सब्बळ उठायी तब अफीक ही सड़क बणाण शुरू करी द्यायी। पैल दिन मा गौं लोगू मिली कन डेढ सौ मीटर सड़क बणायी।
साल 2002 मा चमियाला बटी कांगड़ा तकन 10 किमी0 सड़क की स्वीकृति मिली छेयी। लेकिन वै बगत सड़क क हेड बणाण पर विवाद हूण कारण सड़क बणाण काम शुरू नी ह्वे पायी। साल 2016 मा दुबर से सड़क क हेड चयन हूण बाद सड़क बणाण काम लोनिनि न शुरू करी। एक करोड़ 62 लाख रूप्या खर्च करी लोनिनि न तकरीबन साढे चार किमी0 सड़क बणै पायी। अधपुर बणी सड़क कारण कांगड़ा अर हल्दी गॉव मा रैवास कना ह्वाळ 200 परिवार तै क्वी फैदा नी मिली पायी। सड़क अभाव मा गौं रैवास्यूं तै अजों भी 10 किमी दूर पैदल जाण बाबत मजबूर छन।
इतवान कुणी प्रधान कमला देवी, युवक मंगल दल अध्यक्ष मनोज सिह, सरोप सिंह, केशर सिंह, मकानी देवी, सकरा देवी, भरत िंसंह, सोहन सिंह बंसती देवी, त्रेपन सिंह, धर्म सिंह अर जुपली देवी समेत कत्ती दर्जन लरख्यर जनानी हलसी तोक मा कठ्ठी ह्वेन अर सड़क बणाण काम शुरू करी द्यायी। लोनिनि क ईई एनएल वर्मा बुलण च कि चमियाला-कांगड़ा सड़क निर्माण खातिर स्वीकृत एक करोड़ 62 लाख रूप्यों की धनराशि खत्म ह्वे ग्यायी, बकै बच्यूं काम तै पूर कना खातिर शासन कुणी सात करोड़ की डीपीआर भिजीं च। स्वीकृत मिलण बाद ही सड़क बणाणा काम शुरू करे जाल। गौं लोग सड़क बणाणा छन ये बाबत उं तै क्वी जाणकारी नी च।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *