बड़ी खबरः हाईकोर्ट ये फैसला से बदल जाल गौं मा पंचायत चुनौ समीकरण, द्वी से ज्यादा बच्चो ह्वाळ भी लड़ सकल चुनौ

त्रिस्तरीय पंचायत चुनौ मा अब द्वी से ज्यादा नौन्याळ ह्वाळ ब्वे बुबा चुनाव लड़न मामला मा हाईकोर्ट न फैसला सुणे द्यायी। हाईकोर्ट न ब्वाल कि द्वी से ज्यादा नौन्याळ ह्वाळ भी चुनाव लड़ सकदन, अर यी फैसला 25 जुलाई 25 जुलाई 2019 बिटी लागू ह्वाल। ये तारीख बाद द्वी से ज्यादा बच्चा ह्वाळ प्रत्याशी पंचायत चुनाव लड़न खातिर अयोग्य मने जाल। जबकि 25 जुलाई 2019 से पैल जैक तीन नौन्याळ छन, उ चुनाव लड़ सकद। ये प्रकरण मा पैल हाईकोर्ट मुख्य न्यायधीश रमेश रंगनाथन अर न्यायमूर्ति आलोक कुमार व वर्मा की खंडपीठ न सुणवे बाद तीन सितम्बर कुणी यू निर्णय सुरक्षित रखीयाल छ्यायी।
मामला अनुसार नया गॉव कालाढूंगी रैवासी मनोहर लाल आर्या, जोत सिंह बिष्ट घोषिया रहमान, समेत कत्ती लोगू न अलग अलग याचिका दायर करी कन ब्वाल कि राज्य सरकार तरफ बिटी 2019 मा पंचायती राज एक्ट मा संशोधन करी कन द्वी बच्चों से ज्यादा ह्वाळ उम्मीदवार तै चुनाव लड़न से रूकणा छन, जू गलत छ। याचिका मा बुले ग्यायी कि सरकार तरफ बिटी ये संशोधन मा बदलाव बाद पैथर डेट बिटी लागू करवयाणा जू नियम विरूद्ध छ। अब ये फैंसला से गौं मा दुबर चुनौ समीकरण बिगड़ी जाल। येक दगड़ी हाईस्कूल पास हूण बाध्यता तै भी चुनौती दीयीं, च।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *