द्वी पुलिस कर्मियू पर बयान दर्ज कराण कुणी जाणी ह्वाळी पीड़िता दगड़ी दुराचार कना कू आरोप, युवती न रूंद रूंद सुणै आपबीती

एक युवती न सिडकुल क द्वी कांस्टेबलू पर दुष्कर्म कन क आरोप लगै कन इंसाफ दिलाण की गुहार लगयीं। युवती बकै लगायी कि हरिद्वार पुलिस क आला अधिकारी भी वींकी शिकैत पर सुणवै कना बजाय पुलिस कमिॅयू तै सरंक्षण द्याणा छन। उनै एसओ सिडकुल देवराज शर्मा न सब्बी बकै तै खारिज करी द्यायी। सोमवार कुणी प्रेस क्लब मा खुद पीड़िता बताण ह्वाळ युवती न सिडकुल पुलिस पर गंभीर आरोप लगैन। उन जून माह मा एक युवक पर ब्यौ कना क झांसा द्याण अर शारीरिक संबंध बणाण बकै लगै कन सिडकुल थाना मा मुकदमा दर्ज करे छ्यायी।

बकै च कि वीं जॉच सिलसिला मा वींक मुखाभेट एक दरोगा दगड़ी ह्वायी। दारोगा न वीं तै एक दिन पुलिस लैन समणी बयान द्याणा की बात बोली कन बुलायी। बकै च कि दारोगा दगड़ी उखम मौजूद द्वी कांस्टेबल न जबरदस्ती झाड़ियूं मा खींचीकन वीं दगड़ी दुष्कर्म करी। तब बटी वा पुलिस ह्वाळू खिलाफ काररवे की मॉग तै लेकन उच्चाधिकारियूं क कार्यालय क चक्कर कटणी, लेकिन वींक शिकैत पर सुनवै नी हूणा। इनै, एसओ, सिडकुल देवराज शर्मा न बतै कि युवती क सब्ब आरोप निराधार छन।
युवती न जै युवर पर खिलाफ केस दर्ज करायी, वै तै क्लीन चिट देकन कोर्ट मा बयान दर्ज करै छ्यायी, अब वा युवती मुकदमा की फिर से जॉच करण क दबाव बणाणी। सिपाहियूं पर लगयीं बकै पूर तौर पर गलत छन। वखी एसपी सिटी ममता बोहरा न बतै कि मीडिया क माध्यम बटी यू मामला संज्ञान मा आयी, येक जॉच करे जाली।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *