Thursday, September 23, 2021
Home उत्तराखंड भवन एवं अन्य सन्निर्माण बोर्ड उत्तराखंड में भ्रष्टाचार का मामला, हाईकोर्ट ने...

भवन एवं अन्य सन्निर्माण बोर्ड उत्तराखंड में भ्रष्टाचार का मामला, हाईकोर्ट ने तलब की जांच रिपोर्ट

नैनीताल। भवन एवं अन्य सन्निर्माण कल्याण बोर्ड उत्तराखंड में हुए भ्रष्टाचार के मामले में हाईकोर्ट ने सरकार से पूछा कि मामले की जांच पूरी हुई या नहीं? अगर पूरी हो गई हो तो उसकी रिपोर्ट शुक्रवार को ही कोर्ट में पेश करें। कोर्ट ने मामले की सुनवाई के लिए तीन सितंबर की तिथि नियत की है। इस प्रकरण में सन्निर्माण कल्याण बोर्ड के चेयरमैन शमशेर सिंह सत्याल ने खुद को पक्षकार बनाए जाने के लिए प्रार्थनापत्र दिया है। उनका कहना है कि वह पूरे घोटाले से वाकिफ हैं, लेकिन उन्हें पक्षकार नहीं बनाया गया है।

वरिष्ठ न्यायमूर्ति मनोज कुमार तिवारी एवं न्यायमूर्ति आलोक कुमार वर्मा की खंडपीठ के समक्ष काशीपुर निवासी खुर्शीद अहमद की जनहित याचिका पर सुनवाई हुई। याचिका में कहा गया था कि वर्ष 2020 में भवन एवं सन्निर्माण कल्याण बोर्ड ने श्रमिकों को टूल किट, सिलाई मशीनें और साइकिलें देने के लिए विभिन्न समाचारपत्रों में विज्ञापन दिया था। आरोप है कि उक्त सामान की खरीद में बोर्ड के अधिकारियों ने वित्तीय अनियमितताएं की हैं।

जब इसकी शिकायत प्रशासन और राज्यपाल से की गई तो अक्तूबर 2020 में बोर्ड को भंग कर दिया गया। बोर्ड का नया चेयरमैन शमशेर सिंह सत्याल को नियुक्त किया गया। जब इस मामले की जांच चेयरमैन ने कराई तो घोटाले की पुष्टि हुई। याचिका में कहा गया कि मामले में श्रमायुक्त उत्तराखंड ने भी जांच की, जिसमें कई नेताओं और अधिकारियों के नाम सामने आए लेकिन सरकार ने उन्हें हटाकर नया जांच अधिकारी नियुक्त कर दिया। याचिका में कहा गया कि नया जांच अधिकारी निष्पक्ष जांच नहीं कर रहा है। याचिकाकर्ता का कहना था कि मामले की जांच एक उच्च स्तरीय कमेटी गठित कर निष्पक्ष रूप से कराई जानी चाहिए।

इधर, बोर्ड चेयरमैन शमशेर सिंह सत्याल ने कोर्ट में प्रार्थनापत्र देकर कहा है कि वह बोर्ड के चेयरमैन हैं लेकिन उन्हें इस जनहित याचिका में पक्षकार ही नहीं बनाया गया है। वह पूरे घोटाले से वाकिफ हैं। उनका कहना था कि बोर्ड के सदस्यों ने कोटद्वार में ईएसआई हॉस्पिटल बनाने के लिए सरकार और कैबिनेट की मंजूरी के बिना ही ब्रिज एंड रूफ इंडिया लिमिटेड को 50 करोड़ का ठेका दे दिया। इतना ही नहीं, कंपनी को 20 करोड़ रुपये का अग्रिम भुगतान भी कर दिया गया, जबकि हकीकत यह है कि अभी तक हॉस्पिटल बनाने के लिए जमीन का चयन तक नहीं किया गया है।

इस भुगतान के लिए भी सरकार की अनुमति नहीं ली गई। सरकार ने 9 दिसंबर 2020 को इसकी जांच के लिए कमेटी गठित की। कमेटी से कहा गया कि कंपनी से 20 करोड़ रुपये वसूलकर उसे संबंधित खाते में जमा करवाएं। इस जांच कमेटी ने सरकार को अपनी रिपोर्ट 23 मार्च 2021 को सौंप दी थी। जांच में 20 करोड़ रुपये के लेनदेन में अनियमितता पाई गई। चेयरमैन का कहना था कि जब जांच पूरी हो चुकी है तो सरकार रिपोर्ट को सार्वजनिक क्यों नहीं कर रही है।

RELATED ARTICLES

चकराता विधानसभा के इस गांव में 12 साल बाद पहुंची बस, ग्रामीण बोले जिलाधिकारी हो तो राजेश कुमार जैसा

देहरादून। उत्तराखंड की धामी सरकार में विकास का पहिया गांव-गांव तक पहुंच रहा है। राज्य के दूरस्थ गांवों तक अधिकारी पहुंचकर जनता की समस्याओं...

राइंका हरबर्टपुर के दो छात्र कोरोना संक्रमितए अग्रिम आदेश तक विद्यालय बंद

विकासनगर। ब्लॉक क्षेत्र के राजकीय इंटर कॉलेज हरबर्टपुर के दो छात्रों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने के बाद विद्यालय को अग्रिम आदेश तक...

छात्र की मौत में शिक्षक छात्र समेत अन्य पर केस दर्ज

रुद्रपुर। एक निजी इंटर कॉलेज में छात्र की संदिग्ध अवस्था में मौत के मामले में एक छात्र व उसके साथियों समेत विद्यालय के शिक्षकों...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

चकराता विधानसभा के इस गांव में 12 साल बाद पहुंची बस, ग्रामीण बोले जिलाधिकारी हो तो राजेश कुमार जैसा

देहरादून। उत्तराखंड की धामी सरकार में विकास का पहिया गांव-गांव तक पहुंच रहा है। राज्य के दूरस्थ गांवों तक अधिकारी पहुंचकर जनता की समस्याओं...

25 सितंबर को आमने सामने होंगे भारत पाकिस्‍तान

नई दिल्ली। अमरीका के न्यूयार्क शहर में आगामी 25 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र महासभा के दौरान सार्क विदेश मंत्रियों की बैठक होगी। इस बैठक...

आने वाले हैं अच्‍छे दिन, कोरोना से नहीं पड़ेगा डरना

वासिंगटन। संक्रामक रोग विज्ञान में संचारी रोगों की रोकथाम के स्तर की परिभाषाएं दी गई हैं। नियंत्रण का अर्थ है वैक्सीन जैसे जनस्वास्थ्य उपायों...

राइंका हरबर्टपुर के दो छात्र कोरोना संक्रमितए अग्रिम आदेश तक विद्यालय बंद

विकासनगर। ब्लॉक क्षेत्र के राजकीय इंटर कॉलेज हरबर्टपुर के दो छात्रों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने के बाद विद्यालय को अग्रिम आदेश तक...

छात्र की मौत में शिक्षक छात्र समेत अन्य पर केस दर्ज

रुद्रपुर। एक निजी इंटर कॉलेज में छात्र की संदिग्ध अवस्था में मौत के मामले में एक छात्र व उसके साथियों समेत विद्यालय के शिक्षकों...

कुमाऊं एवं गढ़वाल मंडल विकास निगम के धरने में गरजे धस्माना

देहरादून। अपनी 13 सूत्रीय मांगों को लेकर पिछले 9 दिनों से कार्य बहिष्कार व धरना प्रदर्शन कर रहे गढ़वाल मंडल विकास निगम व कुमाऊं...

उत्तराखंड की तीन वामपंथी पार्टियां मिलकर लड़ेंगी विधानसभा चुनाव

देहरादून। उत्तराखंड में आगामी 2022 के विधान सभा चुनाव में उत्तराखंड की तीन वामपंथी पार्टियां भाकपा, माकपा, भाकपा (माले) प्रगतिशील, धर्मनिर्पेक्ष और राज्य समर्थक...

अब आनलाईन बनेंगे दिव्‍यांगों के पास

देहरादून। ट्रेन में यात्रा करने वाले दिव्यांगों को रेल पास बनवाने के लिए अब रेलवे मंडल कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। दिव्यांगों की...

बंदरों को पकड़कर बाड़ों में रखने की मुहिम तेज

देहरादून। उत्तराखंड की वन्यजीव विविधता भले ही बेजोड़ हो, मगर वन्यजीवों का निरंतर गहराता खौफ मुसीबत का सबब भी बना हुआ है। बाघ, गुलदार,...

हिम तेंदुओं (स्नो लेपर्ड) की वास्तव में कितनी संख्या है

देहरादून। उत्तराखंड के उच्च हिमालयी क्षेत्रों में हिम तेंदुओं (स्नो लेपर्ड) की वास्तव में कितनी संख्या है, इस राज से पर्दा उठने के लिए...