राष्ट्रीय सेवा योजना गोंदली क स्वयं सेवियों न गौं गौं जैकन बच्चैं तै पढाण लगै पंवाड़

जख पूर प्रदेश लगातार कोविड 19 बीमरी से लोग परेशान छन, वखी पिछल पाॅच मैना बिटी स्कूल बंद होण से स्कूल्यौं की पढै लिखै सब पर जोळ लग्यूं छ, हालांकि सरकार न आॅनलाईन क्लास माध्यम से पढै सुचारू करवाण कोशिश जरूर करी। लेकिन यी दूर दराज अर खास करी कन पहाड़ी मुल्क मा या कोशिश फलीभूत नी हूण दिख्याणू। किलैकि पहाड़ी क्षेत्रौं मा नेटवर्क बड़ी समस्या छ, अर सरकार की डिजीटिल इंडिया ये बगत वख उकाळ चढद चढद सांस फुलणी अर हर गौं मा जू छ्वट स्कूल्या नौन्याह छन उ अर उंक घरवाळ लगातार परेशान नजर आणा छन, क्योंकि ये साल पढै सत्र अभी तकन शून्य छ, अर बच्चों की परेशनी बाबत परिजनौं तैं चिंता हूणा।

इन हाल मा राजकीय इण्टर काॅलेज गांेदली की छात्राऔं न गाॅव मा जैकन छ्वट छ्वट नौनीहालौं तै पढाण शुरू करयाल अर वे स्वयंसेवी लगातार निस्वार्थ भाव से अपर अपर काम तै कना छन, ये से कखी ना कखी बच्चैं चेहरा पर एक चलक्वांस सी नजर आणी।

एनएसएस की स्वंय सेवी निकिता बत्र्वाल न बतै कि हमन कोरोना ये दौर मा बच्चै पर पढै जू असर दिखण मा आयी वै तै देखीकन हमन मन मा ठाणी कि गाॅव गाॅव जैकन छ्वट छ्वट नौनीहालौं तै पढैकन उंक भविष्य संवारी द्योला। वखी एनएसएस प्रभारी धन सिंह घरिया न बतै कि लगातार कोरोना बढद मामलौं मा पिछल महीनौं मा पढै ठप द अर हमुन स्वाची कि एनएसएस माध्यम से हापला घाटी गावौं मा जैकन छ्वटू छ्वटू नौनीहालौं पढै तै सुचारू रूप से चलवै सक्याव ताकि उंक परिवार अर बच्चैं एक बेहतर भविष्य कल्पना कर सक्याव। एनएसएस स्वयं सेवी द्वारा जू यी काम करयाणा छ वै तै पूर क्षेत्र मा लोग खूब सराहना कना छन।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *