यमकेश्वर क्षेत्र मा शिक्षा- स्वास्थ्य अर सड़क व्यवस्था लाचार, बस चुनावी मुद्दा तकन सीमित, फिर वी ढाक तीन पात

यमकेश्वर प्रखण्ड मा शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क बिजली, पाणी जणी समस्यों से सदनी बिटी परेशान छ, बस यी केवल चुनाव बगत बरसती मिढक जणी टर्र टर्र करी कन मुद्दा बण जदन, वै बाद सब्ब संट ह्वे जदीन। यमकेश्वर मा दिखे जाव त डांडामण्डल मा एक मात्र प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र किमसारी त श्वास बिमरी से हफणा, वखी तालघाटी मा त स्वास्थ्य विभाग तै लकवा पैल बिटी मरयूं छ। एकमात्र अस्पताळ यमकेश्वर भी बुनियादी सुविधौं खातिर हफंण पर लग्यूं छ। इनी कुच्छ हालात इण्टर कॉलेज किमसार जख ना मास्टर, ना ढंग भवन, बस नौन्याळू अपर फीस जण ट्यूशन पढदन तन स्कूल मा पढणा छन। वखी इण्टर कॉलेज पोखरीखाल, यमकेश्वर, चमकोटखाल, राजकीय इंण्टर कॉलेज दिउली हालात भी बदतर से बदतर हुया छन।
सड़क जगह जगह कटी जरूर छन, पर कखी ढुंग रस्ता पर लमडणा छन, त कखी पख्यड़ उजडी कन बाट पर अयां छन, मैक्स ह्वाळ सवरियूं तै जिकुड़ी मा हत्थ धरी कन भगवान भरोसू पर सरण पर लग्या छन। नौगांव बुकण्डी मार्ग पिछल 19 साल मा बस चुनाव मुद्दा बणी कन रै ग्यायी। वनी धारकोट जुलेड़ी मोटर मार्ग भी अधबट लग्यूं छ, लोगू अपर पुंगड़ी पटळी भी यूं सडक खातिर देन अर कुच्छ मलवा मा दबी कन अपर नाप खेत से भी विरान ह्वे गीन। ब्लॉक मुख्यालय सड़क चौतरफा झाडी हुयीं छ, अधिकारी कर्मचारी सब्बी चिरोड़ा लगै कन जाणा छन पर उंते साफ कना क्वी जिम्मेदरी ना विभाग लीणा अर ना क्वी नेता। बकै स्कूल्यों आण जाण बाट त यमकेश्वर जंगळ द्यवता भुम्याळ भरोसू पर छुड़या छन। किमसारी सड़क, पर द्वी दिन चुनौ मा आण जाण खातिर जेसीबी जरूर लगी, अर जरा जरा झाड़ी चुप्फा जरूर कट्या पर वै बाद चुनौ खतम ह्वेन अर हालात जसका तस बणी छन। वनी चुनौ बगत किमसारी स्कूल, अर अस्पताळ प्रकरण जरूर चमक्यूं रायी, पर अजकळी वै पर भी अब क्वी बुलणा कुणी तैयार नी छन।
पाणी योजना भी सब्ब कागजू मा बणी छन, लेकिन धरती मा लोग तिसा छन। अब्बी पंचायत चुनौ निपटीन, वैमा बड़ू हल्ला हूयूं छ्यायी कि हम यमकेश्वर बुनियादी सुविधा पर काम करला, लेकिन अब सब्ब ना जाणे कै मुसदुळ लुक्या छन। बस यमकेश्वर अब घोषणा पत्र तकन सीमित रै ग्यायी, बकै यख मूलभूत समस्या जखे तखी छन। नीलकंठ नजीक जोगियाणा गौं लोग आज भी सड़क बाट दिखणा छन, वखी तालघाटी सदनी तरां आज भी विरान ही बणी छ। लेकिन 2022 चुनौ नजीक छन कुच्छ दिन बाद लाउडस्पीकर मा विकास घ्याळ जरूर सुणना खुणी मिलल फिर सब्बी चुप्प ह्वे जाल। कुल मिलै कन बात या छ कि यमकेश्वर विकास केवल चुनावी घोषणा पत्र मा छपी कन रै जै करदू।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *